जन्माष्टमी शायरी | Janmashtami Shayari Status Quotes in Hindi | janmashtami Best wishes Shayari

जन्माष्टमी शायरी  | Janmashtami Shayari Status Quotes in Hindi | janmashtami Best wishes Shayari

जन्माष्टमी शायरी | Janmashtami Shayari Status Quotes in Hindi | janmashtami Best wishes Shayari

चंदन की ख़ुशबू को रेशम का हार,
सावन की सुगंध और बारिश की फुहार,
राधा की उम्मीद को कन्हैया का प्यार,
मुबारक हो आपको जन्माष्टमी का त्यौहार.

बाल गोपाल भगवान कृष्ण आपके घर आएं,
कृष्णा जन्माष्टमी की ढेर सारी शुभकामनाएं।

जो सबको राह दिखाते और सबकी बिगड़ी बनाते हैं,
हम तो ऐसे कृष्ण-कन्हैया का गुणगान गाते हैं.

विश्व को मोहमई महिमा के असंख्य स्वरूप दिखा गया कान्हा,
सारथी तो कभी प्रेमी बना, तो कभी गुरू-धर्म निभा गया कान्हा,
रूप विराट धरा तो, धरा तो धरा हर लोक पे छा गया कान्हा,
रूप किया लघु तो इतना के यशोदा की गोद में आ गया कान्हा.
हैप्पी जन्माष्टमी

वृन्दावन की खुशबू
राधा कृष्ण का प्यार
कन्हैया का नटखटपन
मां यशोदा की फटकार
मुबारक हो आप सबको
जन्माष्टमी का त्यौहार।।

गोकुल की गैया खुश हैं
और खुश हैं सारे ग्वाल
दिली मुबारक हो सबको
जनम लिये नंद लाल ।।

मुरलीधर जिसका नाम गोकुल जिसका धाम,
ऐसे श्री गोपाला को हम सब करें प्रणाम.

जन्माष्टमी के इस अवसर पर, हम ये
कामना करते हैं कि श्री कृष्ण की कृपा आप
पर, और आपके पूरे परिवार पर हमेशा
बनी रहे। शुभ जन्मआष्टमी |

पलकें झुकें, और नमन हो जाए
मस्तक झुके, और वंदन हो जाए
ऐसी नज़र, कंहाँ से लाऊँ, मेरे कन्हैया
कि आपको याद करूँ और आपके दर्शन हो जाए

हमारे दुलारे वही सबसे प्यारे,
माखन के लिए झगड़ जाए,
गोपियां देखकर आकर्षित हो जाए लेकिन सबके रखवाले,
तभी तो सब के दुलारे
हैप्पी जन्माष्टमी कन्हैया

मुरली मनोहर ब्रिज के धरोहर वह नंदलाल गोपाला है,
बंसी की धुन पर सब दुख हरनेवाला मुरली मनोहर आने वाला है!!
हैप्पी जन्माष्टमी

रूप बड़ा प्यारा है,
चेहरा बड़ा निराला है बड़ी से बड़ी मुसीबत को
कन्हैया जी ने पल भर में हल कर डाला है!!
हैप्पी जन्माष्टमी

हरे कृष्ण हरे कृष्ण!
कृष्णा कृष्णा हरे हरे !! हरे राम हरे राम !
राम राम हरे हरे !!!
श्री कृष्ण जन्माष्टमी

रूप बड़ा प्यारा है,
चेहरा बड़ा निराला है,
बड़ी से बड़ी मुसीबत को,
कन्हैया जी ने,
पल में हल कर डाला है।

माखन चुराकर खाया जिसने,
बंसी बजाकर नचाया जिसने,
प्रेम का रास्ता दिखाया जिसने,
उसके जन्मदिन की खुशी मनाओ।

माखन चोर नन्द किशोर,
बांधी जिसने प्रीत की डोर,
हरे कृष्ण हरे मुरारी,
पूजती जिन्हें दुनिया सारी,
आओ उनके गुण गाएं
सब मिल के जन्माष्टमी मनाए।

पलकें झुकें और नमन हो जाए,
मस्तक झुके और वंदन हो जाए,
ऐसी नजर कहाँ से लाऊं, मेरे कन्हैया
कि आपको याद करूँ,
और आपके दर्शन हो जाए।

पग -पग वो चला आएगा,
खुशियाँ अपने साथ लाएगा,
आएगा नटखट नंदलाल,
आपका जीवन सुख समृद्धि से भर जाएगा।

आओ मिलकर सजाए नन्दलाल को,
आओ मिलकर करें उनका गुणगान,
जो सबको राह दिखाते हैं,
और सबकी बिगड़ी बनाते हैं।

श्री कृष्ण के कदम आपके घर आए,
आप खुशियों के दीप जलाए,
परेशानी आपसे आँखें चुराए,
कृष्ण जन्मोत्सव की आपको शुभकामनाएं।

कृष्णा तेरी गलियों का जो आनंद है,
वो दुनिया के किसी कोने में नहीं,
जो मजा तेरी वृंदावन की रज में है,
मैंने पाया किसी बिछौने में नहीं।

कृष्णा जिसका नाम है,
गोकुल जिसका धाम है,
ऐसे भगवन को हम सब का प्रणाम है।

प्रेम से श्री कृष्ण का नाम जपो,
दिल की हर इच्छा पूरी होगी,
कृष्ण आराधना में लीन हो जाओ,
उनकी महिमा जीवन खुशहाल कर देगी।

गोकुल में जो करे निवास,

गोपियों संग जो रचाए रास,
देवकी-यशोदा जिनकी मैया,
ऐसे हमारे किसन कन्हैया।

माखन का कटोरा, मिश्री का थाल,
मिट्टी की खुशबू, बारिश की फुहार,
राधा की उम्मीदें, कृष्ण का प्यार,
मुबारक हो आपको, जन्माष्टमी का त्यौहार।

राधा की भक्ति मुरली की मिठास,
माखन का स्वाद और गोपियों का रास,
सब मिलके बनाते हैं जन्माष्टमी का दिन खास।

लोगो की रक्षा करने,
एक उंगली पर पहाड़ उठाया,
उसी कन्हैया की याद दिलाने,
जन्माष्टमी का पावन दिन आया।

देखो फिर जन्माष्टमी आयी है,
माखन की हांडी ने फिर मिठास बढ़ाई है,
कान्हा की लीला है सबसे प्यारी,
वो दे तुम्हें दुनिया की खुशियाँ सारी।

पलके झुका के नमन करे, मस्तक झुका के वंदना करे !
ऐसी नज़र दे मेरे कान्हा, जो बंद होते ही आपके दीदार करे !!
कृष्णा जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाये

कृष्णा जिनका नाम गोकुल जिनका धाम !
श्री कृष्णा भगवान् को हम सब का प्रणाम !!
जन्माष्टमी की हार्दिक शुभ कामनाएँ।

राधा की भक्ति मुरली की मिठास,
माखन का स्वाद और गोपियों का रास,
सब मिलके बनाते हैं जन्माष्टमी का दिन ख़ास !!

माखन का कटोरा, मिश्री का थाल,
मिट्टी की खुशबू, बारिश की फुहार,
राधा की उम्मीद कन्हैया का प्यार,
मुबारक हो आपको जन्माष्टमी का त्यौहार।

माखन चुराकर जिसने खाया,
बंसी बजाकर जिसने नचाया,
ख़ुशी मनाओ उनके जन्मदिन की,
जिसने दुनिया को प्रेम का रास्ता दिखाया।

नन्द का दुलारा, देवकी का प्यारा, यशोदा की आँख का तारा
जय हो तेरी गोकुल के ग्वाला, पीड़ा हरो हम सबकी
अब तो दर्श दिखाओ भगवन, जय हो जय नटखट नन्द लाला
वृन्दावन का यारा, तेरी सदा ही जय जय कारा
कृष्णा जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामना

प्रेम से कृष्णा का नाम जपो
दिल की हर इच्छा पूरी होगी
कृष्णा आराधना में इतना लीन हो जाओ
उनकी महिमा, जीवन खुशहाल कर देगी

हर शाम हर किसी के लिए सुहानी नहीं होती
हर प्यार के पीछे कोई कहानी नहीं होती
कुछ तो असर होता हैं दो आत्मा के मेल का
वरना गोरी राधा, सांवले कृष्णा की दीवानी ना होती

गाय का माखन, यशोधा का दुलार
ब्रह्माण्ड के सितारे कन्हैया का श्रृंगार
सावन की बारिश और भादों की बहार
नन्द के लाला को हमारा बार-बार नमस्कार

जन्माष्टमी के इस अवसर पर, हम ये
कामना करते हैं कि श्री कृष्ण की कृपा आप
पर, और आपके पूरे परिवार पर हमेशा
बनी रहे। शुभ जन्मआष्टमी |

Massage (संदेश) : आशा है की "जन्माष्टमी शायरी | Janmashtami Shayari Status Quotes in Hindi | janmashtami Best wishes Shayari" आपको पसंद आयी होगी। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि Motivational Thoughts को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। आप अपने सुझाव निचे कमेंट या हमें मेल कर सकते है!
Mail us : jivansutraa@gmail.com

दोस्तों अगर आपको हमारा post पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे. आप हमसे Facebook Page से भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.

इसे भी पढ़े :

Leave a Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here