वॉरेन बफेट का जीवन परिचय | Warren Buffett Biography in hindi

वॉरेन बफेट का जीवन परिचय | Warren Buffett Biography in hindi

वॉरेन बफेट का जीवन परिचय  Warren Buffett Biography in hindi

दुनिया का सबसे अमीर आदमीयों मे एक, जिसे दुनिया का सबसे अमीर आदमी बिल गेट्स अपना सबसे बेहतरीन दोस्‍त और प्रेरक मानते है. साधारण से परिवार का एक लड़का जो दुनिया को सिखाता है वॉरेन एडवर्ड बफेट  का जन्म 30 अगस्त 1930 को हुआ  था। वह एक अमेरिकी व्यापारिक निवेशक और परोपकारी व्यक्ति है जो बर्कशायर हैथवे के अध्यक्ष और सी ई ओ के रूप में कार्य करते है।उन्हें दुनिया के सबसे सफल निवेशकों में से एक माना जाता है  और 2008 तक, अनुमानत 62 अरब U.S डॉलर  की कुल संपत्ति के कारण फोर्ब्स द्वारा उन्हें दुनिया का सबसे अमीर आदमी आंका गया था। सबसे बड़ी बात ये हैं, कि बफेट ने अपनी कुल संपति का लगभग 85% हिस्सा Bill Gates की Bill & Melinda Gates Foundation को दान में दे दिया था और इतिहास बन गया और वह दुनिया के सबसे बड़े दानी व्यक्ति  बन गए।

पूरा नाम-    वॉरेन बफेट
उप नाम –   ऑरेकल ऑफ ओमाहा
जन्‍म तिथि –    30 अगस्‍त 1930
जन्‍म स्‍थान –   नेब्रास्‍का, ओमाहा, स. रा. अमेरिका
पिता –   हावर्ड बफेट
माता –   लीला स्‍टॉल
पत्‍नी –   सुसान थॉम्‍पसन, एस्ट्रिड मेंक्‍स
बच्‍चे –   एलिस हावर्ड तथा पीटर
पेशा –   निवेशक -उद्यमी, व्यवसायी, फाइनेंसर
कंपनी –    बर्कशायर हैथवे
नेट वर्थ:    $ 100 बिलियन
लिंग :    पुरुष
ऊंचाई:    5 फीट 10 इंच (1.78 मीटर)
राष्ट्रीयता:                      संयुक्त राज्य अमेरिका                         

कौन है वॉरेन बफेट? (Who is Warren Buffett) –

वॉरेन बफेट बर्कशायर हैथवे को मालिक और शेयर बाजार के सबसे बेहतरीन निवेशको में से एक माने जाते हैं. फोर्ब्‍स पत्रिका द्वारा जारी की गई रैंकिंग के अनुसार वे दुनिया के सबसे अमीर व्‍यक्‍तियों में से एक हैं और 2008 में जारी की गई सूची के अनुसार उनकी नेटवर्थ 62 अरब अमरिकी डॉलर से ज्‍यादा है. वॉरेन बफेट का जन्‍म 30 अगस्‍त 1930 के ओमाहा के नेब्रास्‍का कस्‍बे में हुआ था. ओमाहा का होने की वजह से उन्‍हें ओमाहा की देववाणी या ओमाहा का ऑरेकल भी कहा जाता है. वॉरेन के पिता का नाम हावर्ड बफेट और माता का नाम लीला स्‍टॉल था. उनके पिता भी शेयर बाजार में एक निवेशक और सलाहकार के तोर पर  काम करते थे, तो ये कहना गलत नहीं होगा कि वॉरेन को निवेश करने की कला विरासत में मिली थी. उन्‍होंने ने भी अपने पिता के नक्‍शे कदम पर चलते हुए शेयर बाजार में ही अपना भविष्‍य तलाशने का फैसला लिया. उन्‍होंने वाॅशिंगटन डीसी के वुड्रो विल्‍सन हाई स्‍कूल से स्‍कूली शिक्षा पूरी की. पेंसिलवेनिया विश्‍वविद्यालय के व्‍हार्टन स्‍कूल से उपाधि लेन के बाद इन्‍होंने कोलम्बिया स्‍कूल ऑफ मैनेजमेंट से प्रबंधन की पढ़ाई की. आज भी वे ओमाहा में ही अपने छोटे से मकान में रहते हैं जो इस बेहतरीन आदमी की सादगी और उसकी उच्‍च विचारों को पूरी दुनिया के सामने रखता है.

बिजनेस की शुरुआत (Warren Buffett career) –

वॉरेन का जीवन सामान्‍य होता अगर उनकी मुलाकात बेंजामिन ग्राहम से न हुई होती. बेंजामिन वह व्‍यक्ति थे जिन्‍होंने वॉरेन के जीवन पर गहरा प्रभाव छोड़ा. बेंजामिन भी एक शेयर बाजार निवेशक और परामर्शदाता थे. जिनसे सीखे गुरों ने वॉरेन को द वॉरेन बफेट बनाया. खुद वॉरेन बफेट ने कई साक्षात्‍कारों के दौरान स्‍वीकार किया कि वे 15 प्रतिशत फिशर (वॉरेन बफेट का पुश्‍तैनी उपनाम) है और 85 प्रतिशत बेंजामिन ग्राहम. उन्‍होंने ही बताया कि शेयर बाजार के उतार-चढ़ाव को किस तरह अपने फायदे का माध्‍यम बनाया जा सकता है. बेंजामिन से बहुत कुछ सीखने क बाद वॉरेन नाम का किशोर शेयर बाजार की इस दुनिया में नाम कमाने निकल पड़ा.  

बफेट ने अपने व्‍यवसाय की शुरुआत पहले पहल 13 साल की उम्र में ही कर दी थी. उन्‍होंने 1943 में अपना पहला इन्‍कम टैक्‍स रिटर्न भरा था. पूत ने पालने में पांव दिखाने शुरू कर दिए थे. 15 साल की उम्र में उन्‍होंने एक पिन बॉल खरीदा और एक सलून में हिस्‍सेदारी के साथ रख दिया और देखते ही देखते कुछ ही महीनों में वॉरेन एक से बढ़कर तीन पीनबॉल के मालिक हो गए थे. बिजनेस चल निकला था. वॉरेन के हाथ हमेशा सफलता ही लगी ऐसा भी नहीं था. उन्‍होंने हार्वर्ड बिजनेस स्‍कूल में शिक्षा के लिए आवेदन दिया लेकिन स्‍कूल ने भविष्‍य के इस सबसे महान निवेशक का आवेदन ठुकरा दिया. इसी तरह उन्‍होंने अपने शुरूआती निवेश में एक गैस स्‍टेशन खरीदा जिसमें उन्‍हें घाटा उठाना पड़ा. इसी दौर  में जब वे व्‍यवसाय के हरेक फ्रंट पर जीत रहे थे, तभी म‍हज 22 साल की उम्र में वे सुसान थॉम्‍पसन पर अपना दिल हार बैठे और 1952 में दोनों ने शादी कर ली. 1953 में वॉरेन की पहली संतान हुई, नाम रखा गया सुसन एलिस बफेट. इसके बाद उनके दो और बच्‍चे हावर्ड तथा पीटर हुए.  

वॉरेन सफलता की सीढि़यां

वॉरेन को सही मायनों में काम करने का अवसर तब मिला जब बेंजामिन ग्राहम ने उन्‍हें 12 हजार डॉलर वेतन पर अपनी फर्म में नौकरी पर रखा. इस नौकरी के दौरान ही उन्‍हें शेयर बाजार के उतार-चढ़ाव को फायदे के लिए इस्‍तेमाल किए जाने के तरीको की समझ को विकसित करने का अवसर मिला. दो वर्ष बाद बेंजामिन ग्राहम ने सेवानिवृति ले ली. एक बार फिर बफेट ने अपना काम शुरू करने की योजना बनाई और बफेट पार्टनरशिप लिमिटेड के नाम से निवेश फर्म बनाई. इसी फर्म में हुई अपनी कमाई से बफेट ने अपना पहला और वर्तमान घर 31 हजार 500 डॉलर में खरीदा. इसके बाद तो वॉरेन ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और 1962 आते-आते महज 32 साल की उम्र में अमेरिका को एक नया करोड़पति मिल चुका था-वॉरेन बफेट. उनकी साझेदारियों की नेटवर्थ  7 करोड़ 17 लाख डॉलर से ज्‍यादा हो चुकी थी और इसमे में 10 लाख 25 हजार से ज्‍यादा की रकम अकेले वॉरेन की थी. इसके बाद उनकी जिंदगी में आया बर्कशायर हैथवे. वॉरेन ने तेजी से इस कंपनी के शेयर्स को खरीदना शुरू कर दिया और 1965 तक इस कंपनी का नियंत्रण उन्‍होंने अपने हाथों में ले लिया. इस कारनामें को अंजाम देते वक्‍त उनकी उम्र महज 35 साल थी.

बर्कशायर ने सफलता की सीढि़या चढ़नी शुरू कर दी. इसी कंपनी के साथ काम करते हुए उन्होंने सभापति के तौर पर चिट्टियां लिखी, जो पूरी दुनिया में मशहूर हुईं. 1979 पहला साल था जब वॉरेन का नाम पहली बार फोर्ब्‍स की अमीरों की सूची में आया. इससे पहले कुछ शेयर्स खरीद में उन्‍हें जांच का भी सामना करना पड़ा लेकिन वॉरेन इसमें से बेदाग बाहर आए. इसके बाद तो वॉरेन ने सफलता शब्‍द को भी छोटा बना दिया. उन्‍हें सर्वकालिक महान पूंजी प्रबंधक स्‍वीकार कर लिया गया. 2008 में उन्‍होंने बिल गेट्स को पछाड़ते हुए दुनिया के सबसे अमीर आदमी होने का खिताब भी अपने नाम कर लिया. इसी बीच 75 साल की उम्र में उन्‍होंने अपने रिटायरमेंट की घोषणा करते हुए अपनी संपति का बड़ा हिस्‍सा मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन के नाम कर दिया और सिंपसन को अपना उत्‍तराधिकारी चुन लिया.

सादा जीवन उच्च विचार  | Simple Living And High Thinking  

वारेन बफेट अपनी जीवन शैली को बहुत ही सरल तरीके से जीते थे। (Simple Living An High Thinking) वॉरेन बफेट की दौलत के बावजूद, उनकी जीवनशैली आज भी उतनी ही सरल है। बफेट अभी भी उसी घर में रहते हैं, जिसे उन्होंने 5 दशक पहले खरीदा था। वह अपना खुद का काम करता है और किसी भी सुरक्षा गार्ड का उपयोग नहीं करता है, न ही उसके पास एक ड्राइवर है जो कार को खुद ड्राइव करता है और साथ ही वह कभी भी निजी रूप से ड्राइव करता है। विमान से यात्रा न करें और वह अपने सभी सीईओ को साल में केवल एक बार लिखते हैं।

वारेन बफे के बारे में सबसे बड़ी बात यह है कि उन्होंने अपनी कुल संपत्ति का लगभग 85% बिल गेट्स और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ऑफ द वर्ल्ड को दान करके इतिहास रचा। देश के सबसे बड़े दानदाता बन गए।

वारेन बफेट अपनी जीवन शैली को बहुत ही सरल तरीके से जीते थे। (सिंपल लिविंग हाई थिंकिंग) वॉरेन बफेट की दौलत के बावजूद, उनकी जीवनशैली आज भी उतनी ही सरल है।

 बफेट अभी भी उसी घर में रहते हैं, जिसे उन्होंने 5 दशक पहले खरीदा था। वह अपना खुद का काम करता है और किसी भी सुरक्षा गार्ड का उपयोग नहीं करता है, न ही उसके पास एक ड्राइवर है जो कार को खुद ड्राइव करता है और साथ ही वह कभी भी निजी रूप से ड्राइव करता है। विमान से यात्रा न करें और वह अपने सभी सीईओ को साल में केवल एक बार लिखते हैं।

वारेन बफे के बारे में सबसे बड़ी बात यह है कि उन्होंने अपनी कुल संपत्ति का लगभग 85% बिल गेट्स और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ऑफ द वर्ल्ड को दान करके इतिहास रचा। देश के सबसे बड़े दानदाता बन गए।

गोंद और कोका-कोला - Gum and Coca-cola

गोंद और कोका-कोला के जरिए 6 साल की उम्र में, वॉरेन बुफे ने अपने पड़ोस में गोंद की छड़ें बेचकर कमाई की। उन्होंने एक ट्रे में रसदार फल, भाला और डबल पुदीना जैसे फ्लेवर लिए। आखिरकार, उसने उन्हें पांच के पैक के लिए एक निकल की कीमत पर बेच दिया।
उन्होंने उन मसूड़ों के टुकड़े को बेचने से इनकार कर दिया और कहा कि यह उनके सिद्धांतों के खिलाफ था।
बफेट ने उल्लेख किया है कि कोका-कोला को बेचने का उसका लाभ मार्जिन मसूड़ों को बेचने की तुलना में बेहतर था। यह कैसे वारेन बफेट की सफलता की कहानी शुरू हुई।

समाचार पत्र बेचना - Sale News Paper

13 साल की उम्र में, बफेट ने एक ऐसा काम किया, जिसे आज ज्यादातर लोग देख सकते हैं। उन्होंने पेपरबॉय के रूप में काम करना शुरू किया और वाशिंगटन पोस्ट की प्रतियां वितरित कीं। वह सुबह 4.30 बजे उठा और खुद को पहले से ज्यादा तेजी से पहुंचाने की चुनौती दी।
15 साल की उम्र तक वॉरेन बफेट ने सिर्फ कागजात देकर लगभग 2000 डॉलर की कमाई शुरू कर दी। उन्होंने 40 एकड़ खेत खरीदने में अपने मुनाफे का 1,200 डॉलर का निवेश किया। बाद में उन्होंने इसे एक नेब्रास्कन किसान को बेच दिया।

एक कंपनी शुरू करना - Warren Buffet Starts a Company

बफेट ने महसूस किया कि उन्होंने अन्य लोगों की कंपनियों से काफी पैसा कमाया है। उन्होंने अपनी खुद की एक कंपनी शुरू की। उन्होंने गोल्फ की गेंदों का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया। इसके अलावा, उन्होंने $ 3.50 के लिए रिफर्बिश्ड गोल्फ बॉल खरीदी और उन्हें $ 6 में बेच दिया।

डाकघर का टिकटों का संग्रह

'डाकघर का टिकट' एकत्रित करना के जरिए बफेट ने बाद में "बफेट की स्वीकृति सेवा" नामक कंपनी की स्थापना की। उन्होंने राज्य के बाहर रहने वाले लोगों को सामूहिक टिकटों की बिक्री की।

चमकाने वाली कारें

उन्होंने कारों को चमकाने के लिए अपना व्यवसाय बढ़ाया। उन्होंने अपने दोस्त की मदद से "बफेट का शोरूम चमक" स्थापित किया। दो युवकों ने अपने दोस्त के पिता की इस्तेमाल की हुई कार का कारोबार किया। उन्होंने व्यवसाय को गिरा दिया क्योंकि इसमें बहुत अधिक श्रम शामिल था।

पिनबॉल मशीनों की स्थापना

पिनबॉल मशीनों के जरिए 17 साल की उम्र में, वॉरेन बफेट एक व्यवसायिक विचार के साथ आए, जिसमें बहुत बड़ी संभावनाएं थीं। उसने अपने दोस्त को इसके बारे में बताया। उन्होंने $ 25 के लिए पुरानी पिनबॉल मशीनें खरीदीं। उसके दोस्त को इसे ठीक करने के लिए कहा गया जबकि बफेट साझेदारी की तलाश में था। बफेट ने नाई की दुकानों से संपर्क करके उनसे पिनबॉल मशीन स्थापित करने के लिए कहा। बदले में, उसे मुनाफे का आधा हिस्सा मिलने की उम्मीद थी।
वारेन ने अपने लिए "मि। विल्सन कॉइन ऑपरेटेड मशीन कंपनी" नामक एक काल्पनिक पहचान विकसित की, जो वास्तव में कभी अस्तित्व में नहीं थी। नाई को पहली रात में $ 4 प्राप्त होने के बाद से बहुत खुशी हुई थी।
बफेट ने अपने पहले सप्ताह में $ 25 का लाभ कमाया जो उन्होंने एक नई पिनबॉल मशीन में निवेश किया। उन्होंने अपनी यात्रा तब तक जारी रखी जब तक कि उनके पास शहर के चारों ओर सात या आठ मशीनें नहीं थीं जिन्होंने उन्हें एक स्थिर राजस्व अर्जित किया।
यदि आप उन चीजों को खरीदते हैं, जिनकी आपको जरूरत नहीं है तो शीघ्र ही आपको उन चीजों को बेचना पड़ेगा जिनकी आपको जरूरत है।
प्रतिष्ठा का निर्माण करने के लिए 20 साल लग जाते हैं और इसे बर्बाद करने में पांच मिनट। अगर आप इस बारे में सोचते हैं, आप अलग तरह से काम करेंगे।

निजी जीवन

1949 में, बफेट का सुसान थॉम्पसन नाम की एक युवती पर क्रश था, जिसके बॉयफ्रेंड का एक उकलू था। प्रतिस्पर्धा के प्रयास में, उन्होंने अपना खुद का ukelele खरीदा और तब से इसे खेल रहे हैं। बफेट और थॉम्पसन ने 1952 में शादी की। उनके तीन बच्चे थे सूसी, हॉवर्ड और पीटर। इस जोड़ी ने 1977 में अलग रहना शुरू कर दिया, जब सुसान सिंगिंग करियर बनाने के लिए सैन फ्रांसिस्को चली गईं, लेकिन जुलाई 2004 में अपनी मृत्यु तक शादीशुदा रहीं।2006 में, अपने 76 वें जन्मदिन पर, बफेट ने अपने लंबे समय के साथी, एस्ट्रिड मेंक्स से शादी की, जो तब 60 साल के थे – जब वह अपनी पत्नी के साथ सैन फ्रांसिस्को चले गए थे, तब वह उनके साथ रहे थे। वास्तव में, सुसान ने ओमाहा को छोड़ने से पहले दोनों के मिलने की व्यवस्था की। तीनों करीबी थे और दोस्तों को क्रिसमस कार्ड पर हस्ताक्षर किए गए थे “वॉरेन, सूसी और एस्ट्रिड।

बर्कशायर हैथवे Berkshire Hathaway

1956 में बफेट ने अपने शहर ओमाहा में फर्म बफेट पार्टनरशिप लिमिटेड का गठन किया। ग्राहम से सीखी गयी तकनीकों का उपयोग करके उन्होंने एक सफल कंपनी बनायी और इस तरह से वह करोड़पति बन गये। इस तरह उद्यम बफेट एक मूल्यवान बर्कशायर हैथवे नामक एक कपड़ा कंपनी थी। उन्होंने 1960 के दशक के शुरू में स्टॉक जमा करना शुरू कर दिया  और 1965 तक उन्होंने कंपनी का नियंत्रण संभाल लिया था।

2012 में बफेट ने खुलासा किया कि उन्हें प्रोस्टेट कैंसर था। उन्होंने जुलाई में विकिरण उपचार से गुजरना शुरू कर दिया  और नवंबर में सफलता पूर्वक अपना इलाज पूरा कर लिया।

वारेन बफेट के कुछ विचार Warren Buffett Quotes in Hindi

एकल आय पर कभी निर्भर न करें। दूसरा स्रोत बनाने के लिए निवेश करें।

यदि आप ऐसी चीजें खरीदते हैं जिनकी आपको आवश्यकता नहीं है, तो जल्द ही आपको अपनी ज़रूरतमंद चीजों को भी बेचना होगा।

हमेशा लंबी अवधि के लिए निवेश करें।

खर्च करने के बाद जो बचा है उसे बचाओ, लेकिन बचत के बाद जो बचा है उसे खर्च करें।

मैं हमेशा जानता था कि मैं अमीर बनने वाला था। मुझे नहीं लगता कि मैंने कभी एक मिनट के लिए संदेह किया है।

अपने सभी अंडों को एक टोकरी में न रखें।

ईमानदारी बहुत महंगा उपहार है। सस्ते लोगों से इसकी उम्मीद मत करो।

 

 

 

Massage (संदेश) : आशा है की "वॉरेन बफेट का जीवन परिचय | Warren Buffett Biography in hindi" आपको पसंद आयी होगी। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि Motivational Thoughts को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। आप अपने सुझाव निचे कमेंट या हमें मेल कर सकते है!
Mail us : jivansutraa@gmail.com

दोस्तों अगर आपको हमारा post पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे. आप हमसे Facebook Page से भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.

इसे भी पढ़े :

Leave a Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here