Input Device क्या है और इसके प्रकार | What is Input Device and its Types

Input Device क्या है और इसके प्रकार | What is Input Device and its Types

Input Device क्या है और इसके प्रकार

हेलो दोस्तों आपका फिर से स्वागत है हमारे मोटिवेशनल वेबसाइटस पर आज हम बात करने वाले है की Input Device क्या है और इसके प्रकार है और हमने अगली बार बात की थी की Output Device क्या है और इसके प्रकार क्या है और हमें उम्मीद है आपको हमारा ब्लॉग जरूर से पसंद आया होगा। तो चलिए हम शुरू करते है आज का हमारा टॉपिक जो की है Input Device क्या है और इसके प्रकार है।

What Is Input Device In Hindi आपको इस पोस्ट के माध्यम से आज जानने को मिलेगा जो आपको हम बिल्कुल आसान सी भाषा में समझाएँगे। आशा करते है की आपको हमारी सभी पोस्ट पसंद आ रही होगी। और हमें उम्मीद है की आप आगे भी हमारे ब्लॉग पर आने वाली सारी पोस्ट पसंद करते रहे।

आज अधिकतर लोग कंप्यूटर का उपयोग करते है। और कंप्यूटर के बारे में बहुत कुछ जानते भी होंगे। लेकिन कई लोगों को इसकी पूरी तरह से जानकारी नहीं होती है। तो आज हम आपके लिए कंप्यूटर की कुछ जानकारीयां लेकर आये है। जिसमें आप What Is Output Device In Hindi और What Is Input In Hindi के बारे में जान पाएँगे।

कंप्यूटर में कुछ Devices होती है। जिसकी मदद से कंप्यूटर काम करता है। और जिससे हम कंप्यूटर को Operate करते है। यह Devices 2 तरह की होती है। इनपुट डिवाइस और आउटपुट डिवाइस तथा यह दोनों डिवाइस कंप्यूटर के सबसे Important भाग होते है। आज इन्हीं डिवाइस की जानकारी आपको इस पोस्ट में मिलेगी।

इनपुट डिवाइस क्या है (What is input device in Hindi)

सबसे पहले हम Peripheral device के बारे में जानते हैं की आखिर Peripheral device क्या होता है? क्योंकि कभी कभी आपसे पूछ दिया जाता है की peripheral device क्या होता है या फिर हम इनपुट डिवाइस के definition में peripheral device लिखने वाले हैं इसलिए मैं आपको इसके बारे में बता देता हूँ: – Peripheral device का हिंदी मीनिंग बाह्य (बाहरी) यंत्र होता है| यह एक ऐसा device होता है जो की एक computer को स्टार्ट करने के लिए essential (जरुरी) नहीं होता है मतलब की peripheral  device वैसे device को कहा जाता है जो की computer का part नहीं होता है जिसे अलग से जोड़ा जाता है जैसे Keyboard, Mouse

Computer किसी भी डाटा को process करने में peripheral device का इस्तेमाल नहीं करता है| आपका data computer में जब भी process होता है तो वो memory और micro processor की मदद से process होता है|

Input device एक peripheral device होता है जो की computer में data को enter करने या feed करने में उपयोग होता है| इनपुट डिवाइस यूजर को computer से communicate (बातचीत) करने में help करता है| दुसरे शब्दों में कहें तो वैसा device जो computer को instruction देने के लिए use होता है उसे input device कहा जाता है|

इस पोस्ट को आप पढ़ रहे हैं वो text और image के form में हैं जो की Keyboard और Mouse की मदद से computer में add या enter किया गया है|

Types Of Input Devices in Hindi

Keyboard:

यह सबसे प्रमुख Input device है।इसी के मदद से हम Computer के सारे लिखने वाले काम कर सकते हैं।सबसे ज्यादा इस्तमाल किए जाने वाले devices में से यह एक है. इसकी मदद से हम कुछ भी लिख सकते हैं।आप जो अभी पढ़ रहे हैं वो भी इसी के Keyboard से लिखा गया है।

जैसे की email भेजना, messages भेजना, online transfer करना, online shopping करना और अन्य कामों में हम इसे इस्तमाल करते हैं. इन सभी कामों में हमें Keyboard की जरुरत पड़ती है।

Keys और Description

Typing Keys (लिखने वाले Key)

यह वो Keys जिनसे हम Computer में कुछ लिखने के लिए इस्तमाल करते हैं. जैसे (A-Z) और (a-z).

Numeric Key (Number वाले Keys)

इन Keys से Number लिख सकते हैं जैसे (0,1,2,3,4,5,6,7,8,9)

Function Keys

Computer में ये 12 keys हैं, जो Keyboard के उपर एक ही Line में रहते हैं. F1, F2, F3, F4, F5, F6, F7, F8, F9, F10, F11, F12. हर एक Function key का अलग अलग काम (Function) के लिए इस्तमाल किया जाता है।

Control keys और Arrow Keys

इन keys को Cursor और Screen को Control करने के लिए किया जाता है।जैसे Arrow या Directional keys, जिनको cursor को उपर, निचे, दाएँ, बाएं Move करने के लिए किया जाता है।Control Keys को Screen को Control और Shortcut key बनाने के लिए किया जाता है।EX-Home, End, Insert, Delete, Page Up, Page Down और Ctrl(Control)।

Ctrl+c Copy करने के लिए किया जाता है. Ctrl+x Cut करने के लिए।

Special Purpose Keys

Keyboard से कुछ ख़ास काम करने के लिए ये keys होती हैं जैसे Enter, Shift, Caps Lock , Num Lock, Spacebar, Tab, and Print Screen. हर Key का Special Purpose होता है।

Mouse (माउस)

यह एक pointing device होता है| यह graphical work को perform करने के लिए जरुरी होता है| एक mouse में दो या तीन button available होते हैं| किसी भी mouse का left hand side button सबसे ज्यादा use होता है जबकि right hand side का button special cases में use होता है|

Pointing device वैसे device को कहा जाता है जो की computer screen पर cursor को control करने का काम आता है| जितने भी इनपुट डिवाइस हैं जो की cursor को कण्ट्रोल करने का काम करते हैं उन्हें pointing device कहा जाता है| जैसे Mouse, trackball, graphics tablets etc.

माउस तीन प्रकार के होते हैं:

  • Mechanical mouse
  • Optical Mouse
  • Cardless mouse

Joystick

Joystick एक input device होता है जिसमें एक stick (छड़ी) लगा हुआ होता है और इसका उपयोग device के direction को control करने के लिए किया जाता है| इसको Control column के नाम से भी जाना जाता है| इसका सबसे ज्यादा उपयोग video गेम में होता है| Joystick का उपयोग होने वाला area:

  • Wheelchair
  • Surveillance Cameras
  • Trucks
  • Cranes

 Light Pen

यह एक पॉइंटिंग डिवाइस (Pointing Device) है. इसका आकार एक सामान्य पैन(pen )के जैसे ही होता है।Light Pen का इस्तेमाल कंप्यूटर में लिखने, उसमें कुछ चित्र बनाने और आदि काम करने के लिए किया जाता है।

Scanner:

स्कैनर या ऑप्टिकल स्कैनर एक हार्डवेयर इनपुट डिवाइस है जो ऑप्टिकली इमेजेस को रीड करता हैं और इसे डिजिटल सिग्नल में कन्‍वर्ट करता है।

स्कैनर एक ऐसा डिवाइस है जो ऑप्टिकली इमेजेस, प्रिंटेड टेक्‍स्‍ट, हैंडराइटिंग या किसी ऑब्जेक्ट को स्कैन करता है और उसे एक डिजिटल इमेज में कनवर्ट करता है।

Types of Computer Scanners in Hindi:

i) Flatbed Scanners in Hindi:

आमतौर पर ऑफिसेस में डेस्कटॉप फ्लैटबेड स्कैनर का उपयोग किया जाता हैं, जिसके ग्‍लास पर डॉक्‍युमेंट को रखकर स्‍कैन किया जाता हैं।

Flatbed Scanners में आप एक समय पर एक ही पेज स्‍कैन कर सकते हैं।

ii) Handheld Scanner in Hindi:

Hand-held scanners में डिवाइस को डॉक्‍युमेंट के उपर मूव कर स्‍कैन किया जाता हैं, यह एक छोटा स्‍कैनर होता हैं।

iii) Sheetfed Scanners:

शीटफ़ेड स्कैनर फ्लैटबेड स्कैनर से छोटे होते हैं। जैसा कि इसका नाम हैं, आप स्कैनर में ऑटोमेटिक्‍ डॉक्‍युमेंट फीडर या एडीएफ में डॉक्‍युमेंट या फोटो को फ़ीड करते हैं।

Flatbed Scanners के विपरीत आप इसमें एक ही बार कई डॉक्‍युमेंट स्‍कैन कर सकते हैं और वह भी दोना साइड। इसका स्‍कैन का स्‍पीड फास्‍ट होता हैं।

Microphone

जैसे हम वीडियो रिकॉर्डर(video recorder) और वॉइस रिकॉर्डर (voice recorder) का इस्तेमाल करते हैं।वैसे ही माइक्रोफोन का इस्तेमाल वीडियो रिकॉर्डिंग(video recording), मूवीस(movies) बनाने और आदि में किया जाता है. यह साउंड(sound) को पहले डिजिटल फॉर्म(digital form) में कन्वर्ट(convert) करता है, उसके बाद उसको स्टोर(store) करता है और उसके बाद स्पीकर(speaker) के जरिए यह अपना आउटपुट(Output) दिखाता है।

Massage (संदेश) : आशा है की "Input Device क्या है और इसके प्रकार | What is Input Device and its Types" आपको पसंद आयी होगी। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि Motivational Thoughts को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। आप अपने सुझाव निचे कमेंट या हमें मेल कर सकते है!
Mail us : [email protected]

दोस्तों अगर आपको हमारा post पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे. आप हमसे Facebook Page से भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.

इसे भी पढ़े :

Leave a Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here