Pen Drive क्या है और कैसे काम करता है? What is Pen Drive and How its Works

Pen Drive क्या है और कैसे काम करता है? What is Pen Drive and How its Works

Pen Drive क्या है और कैसे काम करता है?

हेलो दोस्तों आपका फिर से स्वागत है हमारे मोटिवेशनल वेबसाइटस पर आज हम बात करने वाले है की Pen Drive क्या है और कैसे काम करता है? और हमने अगली बार बात की थी की Storage Device क्या है और कितने प्रकार के है? और हमें उम्मीद है आपको हमारा ब्लॉग जरूर से पसंद आया होगा। तो चलिए हम शुरू करते है आज का हमारा टॉपिक जो की है Pen Drive क्या है और कैसे काम करता है?

क्या आप जानते हैं की Pen Drive क्या है और पेन ड्राइव कैसे काम करता है? आप में से ऐसे बहुत से लोग होंगे जो की इस छोटी सी drive का इस्तमाल करते होंगे अपने documents या flies को एक जगह से दुसरे जगह को आसानी से transfer करने के लिए. जी हाँ दोस्तों को मैं इसी छोटे से device के विषय में आज बात करने जा रहा हूँ जिसे की Pen Drive या Flash drive कहते हैं.

अब वो दिन और नहीं रहे हैं जब की लोग पुराने storage device जैसे की floppy disks का इस्तमाल करते थे जो की बहुत ही कम data store कर पाती थी और इसके read और write operation भी बहुत slow होती है. Technology के advancement से अब लोगों के बिच Pen Drive आ गया है दुसरे storage device की तुलना में बहुत fast हैं और इसकी storage space भी ज्यादा होती है. इसे इस्तमाल करना भी बहुत आसान है, user को बस इसे computer के USB port में insert करना होता है. ये सभी operating system के साथ compatible होता है. ये बहुत ही portable होता है जिसका मतलब है की इसे कहीं भी कभी भी आसानी से ले जाया जा सकता है.

Pen Drive के विषय में पूरी जानकारी कहीं पर भी ठीक से उपलब्ध नहीं है जिसके चलते लोगों के मन में बहुत doubt उत्पन्न होते हैं इसलिए आज मैंने सोचा की क्यूँ न आप लोगों को USB Pen Drive क्या होता है के विषय में पूरी जानकारी प्रदान किया जाये और इसके साथ ये कैसे काम करता है. तो बिना देरी किये चलिए जानते हैं की यूऍसबी फ्लैश ड्राइव क्या है और ये कैसे काम करता है।

पेन ड्राइव क्या है (What is Pen Drive in Hindi)

Pen Drive एक ऐसा storage drive जिसका इस्तमाल files को transfer करने के लिए किया जाता है. इसे Commonly USB flash drive भी कहा जाता है।ये एक portable device है जिसका मतलब है की इसे आसानी से transfer किया जा सकता है एक location से दुसरे location तक।इसका design बहुत ही compact होता है और ये pen shape का दिखाई पड़ता है इसलिए इसे pen drive भी कहा जाता है।

इन pen drives को पूरी दुनिया में बहुत से जगहों में इस्तमाल में लाया जाता है।इसके साथ इसने बहुत सारे storage device जैसे की CD’s, Floppy Disk को आसानी से replace कर दिया है क्यूंकि ये उनसे दोनों data storing capacity और transferring speed में उनसे ज्यादा है।Pen drives या USB flash drives को USB (Universal Serial Bus) Port के द्वारा computer में connect किया जाता है जो की computer motherboards पर available होते हैं।इन devices को external power supply की जरुरत ही नहीं है क्यूंकि ये power directly USB port से ही ले लेते हैं operate होने के लिए।

यह Micro, lightweight और handy, होने के कारण इसे आसानी से carry किया जा सकता है एक जगह से दुसरे जगह तक किसी भी students, professionals, academicians और independent tech consultants के द्वारा. पेन ड्राइव का इस्तमाल मुख्य रूप से data store करने के लिए और transfer करने के लिए किया जाता है।इसके द्वारा audio, video, और दुसरे data files को आसानी से transfer किया जा सकता है एक computer से दुसरे तक।जब तक desktop और laptop में USB port है और ये pen drive operating system के साथ compatible है तब तक Pen Drive का इस्तमाल होता रहेगा।

Storage Capacity and Format

Pen Drive के इस्तमाल होने से पहले Floppy disk, CD और DVDs का इस्तमाल होता था. ये Storage device बड़े हुआ करते थे और इसमें storage space भी बहुत कम थी।इन्ही समस्यों को दूर करने के लिए USB Pen Drive को develop किया गया।अभी के समय की बात करें तो फिलहाल इससे fast portable storage medium मेह्जुद नहीं है data recording और reading करने के लिए. इसकी बहुत सी खासियत होने के कारण ही ये बहुत ही जल्द ज्यादा popular हो गया.ये माना जाता है की इसका नाम “Pen Drive” इसलिए पड़ा क्यूंकि ये दिखने में एक pencil के तरह था. इसकी storage capacity अभी के समय में 1 Gb से लेकर 128 Gb तक है, और ये बहुत से shape और sizes में उपलब्ध होता है।।।

Characteristics of Pen Drive

यहाँ पर में आप लोगों को Pen Drive के अलग अलग features के विषय में बताने वाला हूँ।

1.  ये बहुत से materials जैसे की Plastic, metal इत्यादि से बना हुआ होता है जो इसे हल्का बनती है।
2.  इसकी लम्बाई बहुत से प्रकार के होते हैं 1 cm से 6 cm तक।
3.  इसकी capacity 512 Mb से 128 Gb तक होती है।
4.  इसे power USB port से मिलता है।
5.  ये बहुत ही portable होता है जिससे इसे कहीं भी कभी भी इस्तमाल किया जा सकता है।
6.  इसकी thickness 1 cm से 3 cm तक होती है।
7.  इसकी width 1 cm से 3 cm तक होती है।

pen drive का इस्तेमाल कैसे करें?

pen drive का इस्तमाल करना बहुत आसान होता है pen drive का एक end  कंप्यूटर के USB port में insert करना होता है। तथा insert करते ही my computer में इसकी एक drive बन जाती है। जहॉ से drive को access किया जाता है। तथा computer की home screen कुछ notification show करता है  pen drive के connect होने के बाद किसी भी file को drag and drop  या   copy and paste कर सकते हैं|

pen drive को इस प्रकार manufacturer  किया जाता है कि कोई भी OS (operating system) पर इसको इस्तमाल किया जा सके|

Uses of Pen Drive in Hindi:

पेन ड्राइव के क्या उपयोग है?

यूएसबी फ्लैश ड्राइव अक्सर उसी प्रयोजनों के लिए उपयोग किया जाता है जिसके लिए फ्लॉपी डिस्क या सीडी का इस्तेमाल किया जाता था; यानी स्‍टोरेज, डेटा बैक अप और कंप्यूटर फ़ाइलों के ट्रांसफर के लिए।

वे छोटे, फास्‍ट होते हैं, हजारों गुना अधिक कैपेसिटी होती हैं, और अधिक टिकाऊ और भरोसेमंद होते हैं क्योंकि उनमें कोई मुविंग पार्ट नहीं होता।

यूएसबी पेन ड्राइव का उपयोग-

1) Transport:

यूएसबी पेन ड्राइव का सबसे आम उपयोग डयॉक्‍युमेंट, पिक्‍चर और वीडियो जैसे पर्सनल फाइलों को ट्रांसपोर्ट या स्टोर करना है।

2) Computer Repair:

पीसी रिपेयर क्षेत्र में यूएसबी पेन ड्राइव का काफी उपयोग किया जाता हैं, जैसे कि पीसी पर एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर इंस्‍टॉल करने, विंडोज रिकवरी, ट्रबलशुटींग आदी।

3) Carry Applications:

यूएसबी पेन ड्राइव का उपयोग इंस्टॉलेशन की आवश्यकता के बिना होस्ट कंप्यूटर पर रन होने वाले ऐप्‍लीकेशन को कैरी करने के लिए किया जाता है। इसके साथ ही एजूकेशन के कई ऐप्‍लीकेशन पेन ड्राइव से ही डिस्‍ट्रीब्‍युट किए जाते हैं।4) As Audio Players:

कई कंपनियां सॉलीड स्‍टेट डिजिटल ऑडियो प्लेयर को एक छोटे फार्म फैक्‍टर में बनाती हैं। एमपी 3 प्लेबैक फ़ंक्शन यूएसबी पेन ड्राइव के लिए सबसे लोकप्रिय है। उनमें से कुछ में ट्रैक को ब्राउज़िंग करने के लिए एलसीडी डिस्प्ले और ऑडियो इनपुट जैक और रिचार्जेबल बैटरी भी होती है।

5) Boot Operating Systems:

आज अधिकांश पीसी फर्मवेयर एक यूएसबी ड्राइव से बूटिंग की अनुमति देते है, जिससे आप अपने पेन ड्राइव से पूसी को बूट कर सकते हैं। रिकवरी मीडिया बनाकर ओएस रिकवरी भी कर सकते हैं।

6) Operating system installation

पेंड्रिव से कई ऑपरेटिंग सिस्टम इंस्‍टॉल किए जा सकते हैं। आप पेन ड्राइव से विंडोज 7, विंडोज 8, लिनक्स, मैक ओएस आदि इंस्‍टॉल कर सकते हैं।

7) Backup:

आज पेन ड्राइव का उपयोग बैकअप के रूप में भी किया जाता है।

Pen Drive के फायदे

Pen Drive के बहुत से फायदे है जो इस प्रकार है-

  • पेन ड्राइव बहुत मजबूत होती है।

  • पेन ड्राइव एक Compact Design है जो इसको Portable बनाता है।

  • पेन ड्राइव को Bootable Media के रूप में उपयोग किया जा सकता है।

  • पेन ड्राइव की कीमत भी कम होती है जो इसके साइज़ के आधार पर निर्भर करती है।

  • पेन ड्राइव CD, DVD की तरह आसानी से टूटती नहीं है और न ही इनमे डाटा ही खराब होता है।

  • इसमें 64 MB से 128 GB तक की विशाल Data को Storage करने की Capacity होती है।

  • पेन ड्राइव को कंप्यूटर में उपयोग करने के लिए आपको किसी सॉफ्टवेर को इनस्टॉल करने की कोई आवश्कता नही होती है।

  • पेन ड्राइव का उपयोग करना बहुत आसान होता है साथ ही आप इसे अपनी जेब में डाल कर आसानी से एक स्थान से दुसरे स्थान पर ले जा सकते हो।

Massage (संदेश) : आशा है की "Pen Drive क्या है और कैसे काम करता है? What is Pen Drive and How its Works" आपको पसंद आयी होगी। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि Motivational Thoughts को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। आप अपने सुझाव निचे कमेंट या हमें मेल कर सकते है!
Mail us : [email protected]

दोस्तों अगर आपको हमारा post पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे. आप हमसे Facebook Page से भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.

इसे भी पढ़े :

Leave a Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here