राजपूत शादी की रस्मे | राजपूत शादी के रिवाज़ | Rajput Wedding Rituals

राजपूत शादी की रस्मे | राजपूत शादी के रिवाज़ | Rajput Wedding Rituals

राजपूत शादी की रस्मे | राजपूत शादी के रिवाज़ | Rajput Wedding Rituals

राजपूत शादी(Rajput Wedding) की परंपरा मुख्य रूप से भव्यता के लिए जानी जाती है|  राजा और रानी के समय से ही इन परंपराओं का बहुत सख्ती से पालन किया जाता रहा है|   प्रत्येक परंपरा का अपना महत्व है|

राजपूत शाही व्यंजनों, शाही मिठाई और पीने के बहुत शौकीन है| इसीलिए राजपूत शादी (Rajput Wedding) में सूखे फल एवं मलाई से बने विभिन्न मिठाई के साथ साथ भिन्न प्रकार के व्यंजन मिलना आम बात है|   राजपूत शादी (Rajput Wedding) में बियर और वाइन का चयन सावधानी से किया जाता है|

Pre Wedding Rituals-Rajput Wedding

rajput wedding rituals

rajput wedding rituals

तिलक

यह राजपूत विवाह(Rajput Wedding) में शादी की परंपराओं(Wedding Rituals) की शुरुआत है। दुल्हन के घर के पुरुष सदस्य दूल्हे के घर पर तलवार, मिठाई, कपड़े, सोना इत्यादि जैसे उपहारों(Wedding Gifts) के साथ जाते हैं।

दुल्हन का भाई दूल्हे के माथे पर तिलक लगाकर परिवार में उसका स्वागत करता है।

गणपति स्थापना

यह रसम विवाह से कुछ दिन पहले निभाई जाती है। यह रसम भगवान गणेश से आशीर्वाद लेने के लिए की जाती है। दूल्हा और दुल्हन के संबंधित घरों में यह रसम की जाती है जिसमे की एक हवन किया जाता है और घर में गणेश की मूर्ति स्थापित की जाती है। शादी की सभी रस्में(Wedding Rituals) पूरी होने तक  इसकी पूजा की जाती है।

पिठी दस्तूर

हल्दी समारोह(Haldi Ceremony) को पिठी दस्तूर भी कहा जाता है| हल्दी पेस्ट को दूल्हा दुल्हन के हथेली, माथे और पैरों पर लगाना होता है|

परिवार, दोस्त और करीबी रिश्तेदार ,दूल्हा एवं दुल्हन के घर पर इकट्ठे होते हैं और नाचते गाते हैं| स्नैक्स और मिठाई भी परोसी जाती है|

हल्दी की रसम दुल्हन और दूल्हे दोनों के ही परिवारों में मनाई जाती है।

महिरा दस्तूर

दुल्हन के मामा दूल्हे के परिवार के लिए आभूषण और कपड़े प्रस्तुत करते हैं। यह इशारा इस तथ्य पर जोर देता है कि मामा को शादी के खर्चों में हाथ बांटना है।

जेनेव समारोह

इसमें दूल्हे को एक भगवा स्कार्फ पहनना और पंडित की उपस्थिति में कुछ यज्ञों का प्रदर्शन करना शामिल है। इस अनुष्ठान में वैदिक महत्व है।

पल्ला दस्तूर

दूल्हे का परिवार दुल्हन को स्वागत के रूप में कपड़े और आभूषण प्रस्तुत करता है।

राजपूत बारात

राजपूत बारात में केवल पुरुष शामिल होते है और कोई महिला शामिल नहीं होती है। दूल्हे पारंपरिक राजपूत पोशाक के साथ सोने के गहने पहनते हैं, शादी के स्थान पर जाने के लिए घोड़े या हाथी की सवारी करते हैं।

बरात आने पर दुल्हन का परिवार, दूल्हे के परिवार का स्वागत करता है और फिर दूल्हे को लेडीज सेक्शन में ले जाया जाता है जहाँ दुल्हन की माँ उसकी आरती उतारती है।

Wedding Rituals-Rajput Wedding

फेरे

पवित्र अग्नि के चारों ओर दुल्हन और दूल्हे सात बार बंधे हाथों से फेरे लेते हैं| फेरे के समय वैदिक छंदों का जप किया जाता है और शादी की शपथ भी ली जाती है|

वरमाला

किसी भी हिंदू वेडिंग की तरह राजपूत वेडिंग में भी दूल्हा और दुल्हन एक दूसरेके गले में वरमाला डालते हैं |

कन्यादान(Kanyadaan)

इसका मतलब है कि दुल्हन का पिता उसे दूल्हे को दान करता है। इस अनुष्ठान में वैदिक महत्व है, जिसे रामायण और महाभारत के समय में देखा जा सकता है।

Post Wedding Rituals-Rajput Wedding

rajput wedding rituals

rajput wedding rituals

बिदाई

कार के पहिये के नीचे एक नारियल रखा जाता है,आगे बढ़ने से पहले कार को नारियल तोड़ना पड़ता है।

दुल्हन कार में सवारी करने से पहले पर्दा खोलती है, उसका पति उसे चेहरा दिखाने के लिए गहने उपहार देता है|

गृह प्रवेश

चावल से भरे हुए कलश से दुल्हन का स्वागत किया जाता है| उसे घर में अपना पहला कदम के रूप में अपना दाहिना पैर रखना चाहिए।

Pagelagni

दुल्हन को दूल्हे के परिवार से मिलाया जाता है| वह घर के सभी बुजुर्गों के पैरों को छूती है और दुल्हे का परिवार नई दुल्हन को आशीष के साथ साथ उपहार या धन भी देते हैं|

रिसेप्शन

rajput wedding rituals

rajput wedding rituals

शादी के अंत में रिसेप्शन आयोजित किया जाता है| शादी के बाद की पार्टी, जहां सभी दूरदराज के परिवार और दोस्तों रात के खाने के लिए इकट्ठे होते हैं और पीते हैं और जश्न मनाने के लिए नृत्य करते हैं।

राजपूत शादियों(Rajput Wedding) के बारे में एक विशेष विवरण ध्यान दिया जाना चाहिए कि राजपूत अभी भी पुर्दह प्रथा या घूंघट प्रणाली में विश्वास करते हैं। इसलिए, घर की महिलाएं, विशेष रूप से दुल्हन सभी समारोहों के दौरान परिवार के पुरुषों की उपस्थिति में घूंघट के नीचे रहती है।

ऐसा कहा जाता है कि घूंघट महिलाओं को विनम्रता में रहने की याद दिलाता है।

Massage (संदेश) : आशा है की "राजपूत शादी की रस्मे | राजपूत शादी के रिवाज़ | Rajput Wedding Rituals" आपको पसंद आयी होगी। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि Motivational Thoughts को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। आप अपने सुझाव निचे कमेंट या हमें मेल कर सकते है!
Mail us : [email protected]

दोस्तों अगर आपको हमारा post पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे. आप हमसे Facebook Page से भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.

इसे भी पढ़े :

Leave a Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here